Khane Par Control Kaise Kare – खाना खाने का तरीका

Khane Par Control Kaise Kare : स्वास्थ्य से जुड़ी ढेरों सावधानी की बातें जाने के बाद भी यदि आप कुछ भी खा लेने को तैयार रहते हैं तो अब आपको अपनी इस आदत को छोड़ना होगा वरना आपका पेट एक तरह से तक बन जाएगा. जी हां, बात थोड़ी अजीब लगेगी लेकिन ये सच है.

आपको आपने पेट को कूड़ादान बनने से बचाना होगा। खाने से पहले सुचिये-समजिये फिर उसे पेट  रस्ता दिखाइए। आज हम आपको कुछ ऐसे tips बता रहें है, जिनका ख्यांल आप आपने खाने से पहले जरूर रखे 

Khane Par Control Kaise Kare

Khane Par Control Kaise Kare से जुड़ी कुछ टिप्स

वह स्नेक्स मेहमानों के लिए है

आप अक्सर घर में मेहमानों के लिए स्नेक्स बनाते हैं और फिर बस जाने पर उन्हें खुद ही खा जाते हैं. क्योंकि मेहमान आए नहीं तो नेक्स्ट खत्म तो करने ही है. लेकिन यहां आपको फिर याद रखना है की यह आपका पेट है, कूड़ा दान नहीं। इसमें वही डालिए जो जरूरी है.

स्नेक्स उतने ही लाइए जितने जरूरत हो. इसका एक तरीका यह भी है कि आप जब मेहमान आने वाले हो तब ही स्नेक्स लाए. इसके अलावा बस थोड़ी मात्रा में ही  स्नैक्स घर पर रखें, ज्यादा नहीं

जरूरत नहीं तो घर पर नहीं

याद रखिए, जो खाना आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है, उसे घर पर नहीं रखें। मिठाई, अनहेल्दी फ्लेक्स, चॉकलेट आदि को अपने घर में ना रखें। इन चीजों को खरीदने से भी बचें। इन सभी चीजों को खाना पेट को कूड़ेदान बनाने जैसा है

चबाकर खाना है जरूरी

यह तो आपको कभी ना कभी किसी ना किसी ने बताया होगा कि खाना हमेशा चबाकर ही खाना चाहिए। इसलिए इसे धीरे-धीरे आराम से खाएं। लेकिन ऐसा नहीं होता है.

अधिकतर लोगों को खाना स्वादिष्ट लगता है तो ज्यादा और जल्दी खा लेना चाहते हैं. यह आदत आपके स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी अच्छी नहीं है. ज्यादा खाना मतलब ज्यादा कैलोरी।  यदि खाना चबाएगें नहीं तो पचेगा नहीं। इससे कबज जैसी दिक्कत भी हो सकती है

थाली हो छोटी

यदि आपकी थाली छोटी होगी तो आप खाना भी कम लेगें। कह सकते है जयादा लेना चाहेगें तो भी नहीं ले पायेगें, इसलिए जरुरी है कि आप छोटे बर्तनो में खाना लें. छोटे बर्तनो में खाना खाने से कैलोरी की मात्रा भी शरीर में कम हो जाती है. इसलिए बढे-बर्तनो का इस्तेमाल करने से बचें।

बच्चों का खाना, आप खा लेगी

अक्सर ऐसा होता है कि बच्चो का बचा हुआ खाना, चिप्स या चॉकलेट माता फेंकने की बजाय खुद खा लेती है. लेकिन खाना बचाना के चककर में आप अपने पेट के साथ लापरवाही कर रही है. बच्चो को उतना ही खाना सर्व करे जितनी उनकी पेट की जरुरत है

टेंसन फ्री होकर खाइए

खाना जब भी खाये, टेंसन फ्री होकर खाएं। कभी चिंता में कम या जयादा खाना खाने से बचे. क्योँकि कभी बहुत जयादा खा लेते है तो वजन बढ़ने लगता है, फिर इसे कम करने के लिए कुछ जायदा ही कम खाने लगते है. एक शोध की माने तो ये दोनों आदते ही गलत है.

बहुत जायदा या बहुत कम खाने की आदत बीमारियों को न्यौता ही देती है. इसलिए जरुरत के हिसाब से टेंसन फ्री होकर खाये

यह भी पढ़े

आपको हमारी यह पोस्ट Khane Par Control Kaise Kare किसी लगी कमेंट में जरूर बताये। ऐसी ही लेटेस्ट जानकारी के लिए हमे सब्सक्राइब कर सकते है

Akbloggerteam writes multi-category articles to itihaaspedia.info

Sharing Is Caring:

Leave a Comment