जीवन में सफलता के मूल मंत्र – लक्ष्य की प्राप्ति

सफलता के मूल मंत्र (Motivational speech in hindi for success): सफलता सबको प्रिय लगती है परन्तु इसकी प्राप्ति आसानी से नहीं होती। प्रत्येक कार्य के लिए प्रयत्न व सघर्ष करना होता है. बिना विधन के पूर्ण हुआ कार्य जीवन को आनंद प्रदान नहीं कर पाता 

बिना कास्ट उठाये मिली सफलता हमें ऐसे लगती है जैसे कोई वस्तु जयादा आनंददायक नहीं होती। कठिनाई एवं संघर्ष से प्राप्त वस्तु का हमारे मन पर स्थायी प्रभाव पढता है. दुर्लभ वस्तु ख़ुशी व सुख देने वाली होती है. कठिनाइयाँ मानव के गुणों को परखने का साधन है 

सफलता के सूत्र – Safalta Ke Sutra

आपत्तियाँ हमें आत्मज्ञान बनाती है कि हम किस मिटटी के बने है. मुसीबते ही संसार में गतिशीलता बनाये हुए है. इन्हीं के कारण मानव समय-समय पर अपनी कार्य कुशलता का परिचय देने का अवसर प्राप्त करता है. जीवन में बार-बार ठोकरें खाकर ही आदमी अनुभवी होता है 

सफलता पाने के मूल-मंत्र: बार-बार संघर्ष करने से अपनी गलतियों में सुधार करने की योग्यता बढ़ जाती है. कष्टों से मनुष्य साहसी बनता है. (

जिस प्रकार हथियार पत्थर पर रगड़ने से पेना होता है और हीरे को रगड़े तो उसमें चमक आ जाती है, उसी प्रकार कठिनाइयों से व्यक्ति में चेतनता आती है.

मनुष्य में जो शक्तिया छिपी है. संघर्षरत परिणाम-स्वरूप वे प्रत्यक्ष में आकर मानव की सहायता करती है 

जीवन में कार्य करने की जागरूकता तथा आनंद तभी स्थायी रहता है जब उस कार्य में कष्टों का समावेश हो. जिन व्यक्तियों ने कास्ट सहे, उनके सामान्य कार्य भी उन्हें अमर कर गए, वरना वे सामान्य ही रह जाते जैसे महात्मा गाँधी, महाराणा प्रताप, शिवाजी आदि हस्तियाँ कस्ट सहने के बाद भी महान बने

सफलता की परीक्षा – Safalta Ki Pariksha

कस्ट द्वारा प्रभु एक तरह से कह लीजिये कि मनुष्य की परीक्षा लेते है. जो इस परीक्षा में सफल होते है उन्हें आनंद प्राप्त होता है अन्यथा व इच्छा की पूर्ति नहीं कर सकते। उनका जीवन दुःख दायी हो जाता है सफलता की प्राप्ति धीरे धीरे कार्य करने से होती है. इस बीच कष्टों से बार-बार टकराना पढता है.

आक्समिक कठिनाइयाँ प्राय हमारे काम को सुगम नहीं रहने देती और हमें कार्य को बीच में ही छोड़ देना पढता है. दरसअल कठिनाइयाँ हमारे अविवेक के कारण जन्म लेती है. भूल होने पर हमें सावधानी से कार्य करना चाहिए। धैर्य के साथ, परिस्थितियों के आधार पर अपने को ढालने का प्रयत्न करे, तो हर राह को आसान कर सकते है 

Motivational Quotes in Hindi

तेज धूप घास को जला डालती है, परन्तु उसे सदा के लिए नस्ट नहीं सकती। वर्षा आने पर वह पुनः हरी हो जाएगी। ईस्वर ने जिसे जीवन दिया है, वह जियेगा। कोई उसे मार नहीं सकता।

आपत्ति का आना दुःखदाई है.

विपत्ति आने पर जो घबराहट हमारी जीवन सकती को छीन लेती है, वह हानिकारक है. आपत्तियां मनुस्य को जागृत करती है तथा उसके कार्यो में साहस व बल भरती है 

हमें स्थिति को अपने अनुकूल बना लेना चाहिए। धैर्य, प्रयत्न और साहस हमारे बुरे समय के साथी है. इनके रहते हमारा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता 

हमें लज्जा करनी है तो बुरे कार्यो पर करे. सद्गुण से प्रेरित कार्यो पर तो हमें गर्व करना चाहिए। सच की राह पर चलने वालों ने कष्टों को हस्ते-हस्ते झेला।

मुसीबतों के थपेड़े उन्हें उनके मार्ग से डिगा न सके और वे अडोल चलते हुए अंत में सफल हुए 

निर्भय, नि:संकोच ग्लानि रहित होकर काम में लगें रहना चाहिए।

विघनों का आना तो स्वभाविक है, हम उनका साहस से मुकाबला करके अपने ऊँचे मनोबल से वीर-सपूत का सफल जीवन जिए. यही होना चाहिए जीवन का आशय

यह भी पढ़े

Akbloggerteam writes multi-category articles to itihaaspedia.info

Sharing Is Caring:

Leave a Comment