फ्रिज थर्मोस्टेट कैसे काम करता है | How to work thermostat in Refrigerator

हेलो दोस्तों क्या आप भी थर्मोस्टेट के बारे में जानना चाहते हो कि फ्रिज थर्मोस्टेट कैसे काम करता है इसकी पूरी जानकारी आपको इस पोस्ट में मिलेगी | थर्मोस्टेट एक ऐसा डिवाइस है जो कॉलिंग को कण्ट्रोल करने का काम करता है ये जायदातर ठंडा करने वाली उपकरण फ्रिज आदि में प्रयोग किया जाता है यह किस प्रकार कार्य करता है उसी टॉपिक पर हम चर्चा करेंगे

थर्मोस्टेट क्या है what is thermostat

थर्मोस्टेट के तरह का कूलिंग कण्ट्रोल करने वाला डिवाइस है ये फ्रिज के टॉप पर लगा होता है जहां से आप कूलिंग को control करते हो | इसमें पावर की सप्लाई के लिए दो turminal दिए होते है और कलिंग को कण्ट्रोल करने के लिए एक नोब दी होती है

थर्मोस्टेट कैसे काम करता है how to work thermostat

थर्मोस्टेट कूलिंग को कम या जयादा करने का काम करता है थर्मोस्टेट में दो टर्मिनल में फ्रिज के phase की वायर को दोनों टर्मिनल में लगाया जाता है और थर्मोस्टेट के पीछे एक वायर निकली होती है

जिसे फ्रिज में सबसे जयादा ठंडा करने वाली जगह फ्रीज़र में लगाया जाता है इस वायर को थर्मोस्टेट की पूछ भी कहते है ये वायर फ्रीज़र के साथ touch होती है

थर्मोस्टेट की इस वायर में सल्फर डाईओक्साइड (So2) गैस होती है इसी से कूलिंग टेम्प्रेचर को कम या जयादा किया जाता है इस गैस की एक यह खासियत होती है कि इसे थोड़ा सा भी कम टेम्प्रेचर मिलने पर बहुत जल्दी ठंडी और थोड़ा सा गर्म टेम्प्रेचर पर बहुत जल्दी गर्म हो जाती है

थर्मोस्टेट के अंदर दो सिरे बने होते है दोनों सिरों पर दोनों वायर को कनेक्ट किया जाता है इसमें एक तरह का स्प्रिंग होता है जिसे बिलोज कहा जाता है और इसी स्प्रिंग की नीचे की सतह पर एक ड्रायफ्राम नाम की पत्ती लगी होती है |

थर्मोस्टेट की पूछ इसी स्रिंग के ऊपर की ओर joint होती है spring के बीच में एक नोब लगाई जाती है इसके ऊपर स्प्रिंग को लिपटाया जाता है यह स्प्रिंग नीचे के पावर turminal से निश्चित दूरी पर होती है

Cooling कण्ट्रोल सिस्टम वर्क

जब हमें कूलिंग को कम करना होता है तो नोब को कम करा जाता है जब हम नोब को घूमते है तो स्प्रिंग में लगी डायफ्राम नाम की पत्ती power टर्मिनल से टच हो जाती है नोब को काम करने से स्प्रिंग एक round उस पर टच हो जाता है जिससे थर्मोस्टेट कम टेम्प्रेचर पर कट कर देता है अगर हम नोब को और बढ़ाते है तो स्प्रिंग के तीन से चार round power टर्मिनल पर बैठ जाते है

ऐसा करने से थर्मोस्टेवाले पहले से कुछ देर बाद कट करता है अगर हम इस ऑफ करते है तो स्प्रिंग निचे वाले टर्मिनल से हट जाता है और सप्लाई बंद हो जाती है यह कूलिंग कम या जयादा होने की प्रकृया इसी प्रकार चलती रहती है

यह भी पढ़े

Conclusion (निष्कर्ष)

आशा करता हूँ की आपको हमारी यह जानकारी thermostat kaise kam karta hai अच्छी लगी होगी | अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो ऐसे आपने दोस्तों में फेसबुक और whatapp पर शेयर करे | अगर आपको इस पोस्ट से रिलेटेड कोई डाउट है तो हमें कमेंट सेक्शन में comment कर सकते है |

I am a Professional Blogger From India. Here at ''Itihaaspedia'' I Write All About, Internet, Blogging, Technology, Finance, Make Money Online, Education Etc.

Leave a Comment